हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी-islamic nelofar azhari

हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी-islamic nelofar azhari
हज 2019 खुले मसाले ले जाने पर पाबंद, haj yatra 2019 haj par khule masale lejane par rok
हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

अस्सलामवालेकुम व रहमतुल्लाहि व बरकातहू आज का टॉपिक बड़ा ही दिलचस्प है क्योंकि आज हम बात करने वाले हैं हज करने की हज एक ऐसा तोहफा है जो अल्लाह ताला की तरफ से हर मुसलमान को दिया गया है

जिसके पास भी अपनी हैसियत के मुताबिक पैसा हो और वह करने जा सकता हो तो अल्लाह ताला ने उस मुसलमान पर चाहे वह औरत हो या मर्द बूढ़ा हो या जवान या बच्चा अगर उसके पास इतना पैसा है कि वह हज करने आसानी से जा सकता है और सभी के हक और अपने फर्ज अदा कर सकता है तो वह हज करें उस पर हज करना फर्ज हो जाता है

 यहां क्लिक करें

11 फरवरी 2019 को एक नया mama सामने आया जिसके दौरान यह बताया गया कि अब हज पर जाने वाले आज मीन अपने साथ देसी खुले मसाले नहीं ले जा सकते!

Khule masala lejane par Lagi rok

हज 2019 खुले मसाले ले जाने पर पाबंद_islamic nelofar azhari
हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

अब हज करने के दौरान आप अपनी पसंद का मसाला अपने साथ नहीं ले जा सकते क्योंकि 11 फरवरी 2019 को हज समिति के अध्यक्ष पूर्व मंत्री अताउल रहमान ने कहा की हज कमेटी ऑफ इंडिया ने एक नई गाइडलाइंस जारी की है उन्होंने इस गाय लाइन के बारे में सभी अखबार वालों को बताया के हज कमेटी ऑफ इंडिया एक नया रूल कायम किया है जिस पर सभी आज मीन को फॉलो करना होगा जिसके अंतर्गत कोई भी आदमी अपने साथ खुले हुए देसी मसाले नहीं ले जा पाएगा!

एयरपोर्ट पर ही खुले मसाले जप्त कर लिए जाएंगे
अगर कोई खुले हुए मसाले ले जाएगा तो उसे एयरपोर्ट पर ही जप्त कर लिया जाएगा इसलिए आप सभी को ध्यान रखना होगा कि आप अपने साथ खुले हुए मसाले बिल्कुल भी ना ले जाए आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा इसलिए आप अभी से तैयारी कर ले और अपने साथ खुले हुए देसी मसाले बिल्कुल भी नहीं ले जाएं

ब्रांडेड मसाले ले जाने की इजाजत

आवाज पर आप देसी खुले हुए मसाले नहीं ले जा सकते तो यह कोई घबराने वाली बात नहीं है यह आपके लिए ही एक बेहतर विकल्प होगा के हाथ हज के दौरान आपको कोई भी समस्या या बीमारी का सामना ना करना पड़े!

 इसलिए हज कमेटी ऑफ इंडिया ने यह रूल निकाला है और आपको इसे फॉलो करना होगा आप अपने साथ पैकेट वाले पैकिंग मसाले आराम से ले जा सकते हैं और उसको यूज कर सकते हैं और अपनी सेहत का ख्याल रख सकते हैं

हज 2019 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी-islamic nelofar azhari
हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

 

कौन-कौन ले जा सकते हैं

मम्मी वारसी ने बताया कि आप अपने साथ किसे मसालों में लाल मिर्च काली मिर्च धनिया हल्दी जीरा नारियल का बुरादा छोटी इलायची बड़ी इलायची दालचीनी तरबूज के बीज यह सभी चीजें ले जा सकते हैं बशर्ते यह सभी ब्रांडेड और पैकिंग में हो तो आपको कोई भी प्रॉब्लम नहीं होगी!

 

Doorud Shareef ki fazilat

– अनाज में क्या क्या ले जा सकते हैं

अनाज के सम्मान में आप आटा दाल चावल इस टाइप की सभी चीजें ले जा सकते हैं लेकिन इस बात का खास ख्याल रखना होगा कि वह कोई भी चीज खुली हुई ना हो अगर एक भी चीज खुली हुई आप ने धोखे से भी रख ली तो एयरपोर्ट पर ही वह सामान खुलवाया जाएगा!

और उस सामान को जप्त कर लिया जाएगा यह आपके लिए बड़ी समस्या का कारण बन सकता है क्योंकि आप की पैकिंग खराब हो जाएगी जैसे भी आपने पैकिंग की है वह सब बिखर जाएगा और आपको काफी समय लगेगा आपका टाइम बर्बाद होगा!

इसलिए आप इस बात का ध्यान रखिए कि आप जब भी हज के लिए जाएं तो आप ब्रांडेड मसाले ही लेकर जाएं जो कंपनी द्वारा तय किए गए होते हैं वही लेकर जाएं इस तरीके से आपको कोई भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा और आप आसानी से हज पर जा सकेंगे

 ट्रेनिंग में देंगे जानकारी

हज कमिटी के अध्यक्ष पूर्व मंत्री अताउल रहमान ने बताया कि हज समिति के सचिव अहमदुल्लाह वारसी वह हाजी साकिब रजा ने बताया कि की सभी हज कमिटी ओं से कह दिया जाएगा कि वह हज और उमरा की ट्रेनिंग में अच्छी तरह से आज मीन को खुले मसाले ना ले जाने की ट्रेनिंग भी दे दे और

उन्हें साफ साफ बता दें कि आप खुले मसाले नहीं ले जा सकते जिससे किसी भी हज यात्री को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े अताउल रहमान द्वारा यह गाइडलाइन हज कमेटी ऑफ इंडिया ने जारी की है जिस को फॉलो करना हर आज मीन को जरूरी है आप खुले मसाले अपने साथ बिल्कुल भी ना ले जाएं

स्वास्थ्य प्रमाण पत्र अनिवार्य

पूर्व मंत्री अताउल रहमान ने कहा कि अब हज यात्रियों को स्वास्थ्य प्रमाण पत्र ले जाना अनिवार्य है यह भी हज कमेटी ऑफ इंडिया ने गाइडलाइन दी है कि कोई भी हज यात्री बिना स्वास्थ्य प्रमाण पत्र के हज पर नहीं जा सकता और ना ही उम्र पर जा सकता है सभी हज और उमरा करने वालों के पास अपने स्वास्थ्य का प्रमाण पत्र होना अनिवार्य होगा

हज करना हर एक मुसलमान का ख्वाब होता है जब से हम छोटे थे तभी से यह ख्वाब देखते हैं कि हम भी हज करने जाएंगे और अपने वाले दिन से भी सुनते हैं कि अल्लाह हमें और तमाम मुसलमानों को हाथी बनाएं अजय बैतुल्लाह की जियारत करवाएं इंशा अल्लाह अल्लाह से दुआ है

 कि अल्लाह तबारक व ताला सभी को हज करने की तौफीक अता फरमाए और सब को इतना लायक बनाएं कि वह अपने ही पैसे से हज कर सके और अपने वाले धन को भी हज करवा सकें आज सभी मुसलमान मर्द और औरत पर फर्ज है इसलिए जैसे ही हमारे पास इतने पैसे हो जाएं कि हम हज कर सके तो हमें फौरन ही हज की तैयारी कर लेनी चाहिए

हज 2019 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी-islamic nelofar azhari
हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

हज तोहफा है अल्लाह तबारक व ताला का

हज अल्लाह ताला का मुसलमान के लिए एक नायाब तोहफा है जिसकी कीमत जितनी हो वह कम है क्योंकि इंसान ऐसी खूब या किसी चीज़ में नहीं पा सकता जो वह हज के दौरान और हज करने के बाद पाता है!

 दुनिया की सारी दौलत खर्च कर कर भी वह चीज हासिल नहीं हो सकती जो हमें हज करने के बाद हासिल होती है जी हां हज करने के बाद इंसान ऐसा पार्क और साफ हो जाता है जैसे अभी अभी पैदा हुआ हो और उसके सारे गुना मिटा दिए जाते हैं उसकी पुरानी जिंदगी चाहे कितनी भी गंदी और गुनाहों से भरी क्यों ना हो वह अब नहीं रहती वह पाक और साफ होता है!

 उन आंखों ने काबा की जियारत की होती है और काबा तुल्ला का तबाह किया होता है सफा और मरवा की दौड़ की होती है उसने कुर्बानी की होती है इमा ग्राम बांदा होता है वह हज के सभी अरकान पूरे कर चुका होता है और अब वह ऐसा हो जाता है जैसे कि अभी अभी उसकी विलादत हुई है!

यानी वह अभी पैदा हुआ है इतना पाकर साफ होता है अल्लाह आपको हम सबको तो तमाम जहानों के मुसलमानों को हज करने की तौफीक अता फरमाए और हज के दौरान आने वाली हर मुश्किल हर परेशानी से हर एक मुसलमान को बचाए आमीन या रब्बुल आलमीन

हज के दौरान कोई भी ऐसी पाबंदी ना आए जिससे किसी आदमी को परेशानी हो यही मेरी दुआ है अल्लाह इस दुआ को कुबूल करें

हज के दौरान जो देसी मसालों पर पाबंदी लगी है यह कोई बुरी बात नहीं मेरे ख्याल से यह एक अच्छी बात है के खुले मसाले पता नहीं कैसे कैसे बनते हैं और उसमें मिलावट भी होती है और जो ब्रांडेड मसाले होते हैं वह एक ब्रांड के होते हैं

और ब्रांड को अपना ब्रांड बनाए रखना होता है इसलिए वह उसमें शराबी नहीं करते और मिलावट भी नहीं करते मिलावट नहीं होने के कारण आपकी सेहत को कोई नुकसान नहीं होता और सरकार भी चाहेगी कि उसके राज्य में कोई भी बीमार ना हो बरेली से जाने वाले सभी आदमी स्वास्थ्य और हष्ट पुष्ट होकर जाएं और वहां भी स्वस्थ रहे और अच्छी सेहत के साथ हज और उमरा अदा करें!

यही हज कमेटी ऑफ इंडिया का रूल है और यही उनकी सोच होगी जो काफी अच्छी हैं आम आवाम के लिए यह अच्छी बात है कि हज कमेटी ऑफ इंडिया उनके बारे में और उनकी सेहत के बारे में इतनी गहराई से सोचती है!

 इसलिए आप इस बात से बिल्कुल भी परेशान ना हो कि हम खुले मसाले क्यों नहीं ले जा सकते और आप खुश हो जाइए कि आप टेकिंग वाले बैंगन मसाले लेकर जाएंगे और वहां अच्छी-अच्छी बिरयानी चिकन ऑडिशंस बनाकर खाएंगे और खुश रहेंगे!

हज 2019 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी-islamic nelofar azhari
हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

11 February 2019 haj Samiti ke Adhyaksh Purb Mantri Ataurrhaman Ne Kaha Haj Committee of Indian ne ek nai gaidline    jari ki hai unhone bataya haj par  jane wale log Khule masale nahi Le Jayenge Aur Woh Apne Sath branded packet wale masala hi Le Ja Payenge

 

          Is video ko ek base zaroor dekhe
अगर आपको यह पोस्ट पसंद आए और आपको लगे कि यह आपके और आपके दोस्तों के लिए काम की खबर है तो प्लीज आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें शुक्रिया अल्लाह हाफिज दुआ में याद रखिएगा इंशा अल्लाह नेक्स्ट पोस्ट में मिलेंगे!

हज 2021 खुले मसाले ले जाने पर पाबंदी

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here