दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation

1835
दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation
दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation

दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में||Darood e Taj in English translation

 

 

दुरूद ए ताज हिंदी में,दरूद ताज के फायदे,दरूद शरीफ हिंदी में लिखी हुई,दरूदे ताज की फजीलत,

दरूदे ताज की तिलावत,दुरूद ए ताज अरबी में

दुरूद ए ताज हिंदी में || दुरूद ए ताज अरबी में
||Darood e Taj in English translation

 

दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation
दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में||
Darood e Taj in English translation

اِنَّ اللہَ وَمَلٰٓئِکَتَہٗ یُصَلُّوۡنَ عَلَی النَّبِیِّ ؕ

یٰۤاَیُّہَا الَّذِیۡنَ اٰمَنُوۡا صَلُّوۡا عَلَیۡہِ وَ سَلِّمُوۡا تَسْلِیۡمًا

 

दुरूद शरीफ की फजीलत||सबसे छोटा दरूद शरीफ|| दरूद शरीफ दुआ हिंदी

 

दुरूद ए ताज हिंदी में

 

अल्लाहुम्मा सल्ले अला सय्यिदिना व मौलाना मोहम्मदीन
या ईलाही हमारे आक़ा व मौला मोहम्मद ﷺ पर रहमत नाज़िल फ़रमा ।

साहिबित्त ताज़े वल मेराजे वल बुर्राके वल अलम
जो साहिबे ताज़ और मेराज़ और बुर्राक वाले और झंडे वाले है

दाफेईल बलायें वल वबाई वल कहति वल मर्ज़ी वल अलम
जिनके वसीले से बला वबा और क़हत (सुखा) मर्ज़ और दुख दूर होता है

इस्मोहु मक़तूबुम मरफ़ूउम मशफ़ुउम मनकुसुन फ़ील लव्ही वल क़लम
आप ﷺ का नाम नामी लिखा गया, बुलंद किया गया, क़बूले शफ़ाअत किया गया,
और लोह व क़लम में गुदा हुवा है

सय्यिदिल अरबी वल अज़म
आप ﷺ अरब व अज़म के सरदार है

यह भी पढ़ें

 

BSNL OFFER: BSNL’s mobile will work even without a recharge.2020

 

Hantavirus: hantavirus symptoms.hantavirus treatment

 

Treatment of coronavirus disease of the Quran Sharief.Surah

 

जिस्मोहु मुक़द्दसुन मुअत्तरुन मुतहहरुन मुनव्वरुन फ़ील बैति वल हरम
आप ﷺ का जिस्म निहायत मुक़द्दस ख़ुशबूदार पाकीज़ा और खाना क़ाबा व हरम पाक़ में मुनव्वर है

शमशुद्दुहा बदरुददुजा सदरिलउला नूरीलहुदा कहफ़िलवरा मिस्बाहिज़ ज़ुलम
आप ﷺ चास्तगाह के आफ़ताब, अँधेरी रात के माहताब, बुलन्दियों के सदर नसीन, राहे हिदायत के नूर, मख़लूक़ात के जाहपनाह, अँधेरो के चराग़

जमिलिस्सीयम शफ़ीईल उमम सहिबिल जुदी वल करम
नैक इतवार के मालिक़, उम्मतियों के बख़्शवाने वाले, बख़्शिश व करम से मोसूफ़ है

वल्लाहु आसिमोहु जिब्रीलो खादिमुह वल बुर्राको मर्कबुहु वल मेराजो सफ़रोहु व सिदरातुल मुंतहा मकामोहु
अल्लाह तआला आप ﷺ का निगहबान, जिब्रील आप ﷺ के ख़िदमत गुज़ार, बुर्राक़ आप ﷺ की सवारी, और मेराज़ आप ﷺ का सफर, और सिदरतुल मुंतहा आप ﷺ का मक़ाम

व क़ाबा क़व्सैनी मतलूबुह वल मतलुबुह मक़सुदुह वल मक़सुदुह मोजूदुह
और (क़रीबे ख़ुदावन्दी में) क़ाबा कौसेन का मरतबा, आप ﷺ मतलूब है, और मतलूब ही आप ﷺ का मक़सूद है, और मक़सूद आप ﷺ को हासिल है

सय्यिदिल मुरसलीन ख़ातिमिन नबीय्यीन शफ़ीईल मुज़नबीन अनिसिल ग़रीबिन
आप ﷺ रसूलों के सरदार है, नाबियों में सबसे आखिर, गुनाहगारों को बख़्शवाने वाले, मुसाफिरों के ग़मख़्वार

रहमतूल्लील आलमीन राहतिल आशेक़ीन मुरादिल मुश्ताक़ीन शमशील आरिफ़िन
दुनियाँ जहान के लिये रहमत, आशिक़ों की राहत, मुश्ताक़ों की मुराद, ख़ुदा बशनासो के आफ़ताब

सिराजिस सालिकीन मिस्बाहिल मुक़र्रबीन मोहिब्बुल फुक़राए वल गुरबाए वल मसाक़ीन
राहे ख़ुदा पर चलने वालों के चराग़, मुक़रीबो के रहनुमा, मोहताजों, गरिबों और मिस्कीनों से मोहब्बत रखने वाले

सय्यिदिस शक़लैन नबिय्यील हरमैन इमामिल किब्लतैन
जिन्नात और इंसान के सरदार, हरम शरीफ़ के नबी, दोनों कबीलों (बैतूल मुक़द्दस व क़ाबा) के पेशवा

वसिलतना फिद्दारैन साहिबे क़ाबा कौसेन
और दुनियाँ व आख़िरत में हमारा वसीला है, वह मरतबा जो क़ाबा कौसेन पर फ़ाइज़ है

यह भी पढ़ें

How the Coronavirus was born: Coronavirus full news.china

 

Coronavirus Updates: PM Modi spoke to Uddhav Thackeray.Maharashtra

 

महबूबे रब्बुल मशरीकैन व मग़रिबैन
दो मशरीक़ो और दो मग़रीबों के रब के मेहबूब है

जद्दील हसनी वल हुसैन मौलाना व मौलस शकलैन
हज़रत इमाम हसन व हुसैन रदिअल्लाहु अन्हु के जद्दे अमज़द, और तमाम रूह के आक़ा है ।

अबिल क़ासिमि मोहम्मद ﷺ इब्ने अब्दुल्लाह नूरुममिन नूरिल्लाह
अबुल क़ासिम मोहम्मद ﷺ बिन अब्दुल्लाह रदिअल्लाहु अन्हु, जो अल्लाह तआला के नूर में से एक नूर है

या आय्योहल मुश्ताक़ुन बिनुरी जमालेही
ऐसे नूरे मोहम्मद ﷺ के मुश्ताक़ों..!

सल्लु अलैही व आलेही व अस्हाबेहि व सल्लीमो तस्लीमा
आप ﷺ पर और आप ﷺ की आल पर और आप ﷺ के अस्हाब पर दुरूद व सलाम भेजो जो भेजने का हक़ है ।

 

Doorud shareef ki fazilat||doorud shareef ki barkat||2019

 

दुरूद ए ताज अरबी में

 

दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation
दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में||
Darood e Taj in English translation

 

Muhummad s.a.w paidaish|Rabi ul awal|Muhummad s.a.w ki shan

 

Darood e Taj in English translation

 

(The Transliteration is as per Arabic Pronunciation..)

Allahumma salli `ala Sayyidina wa Mawlana Muhammadin
O my Allah
Bless our noble lord
and master
Muhammad –

Sahibit Possessor is he of –
Taji The crown celestial,
wal-Miraji  The ascension ethereal,
wal-Buraqi The steed supernal,
wal-
Alam  And the standard of Truth and discernment eternal.

Dafi` Dispeller is he of:    
al-Bala’i  Tribulations inescapable,
wal-Waba’i Plagues incurable,
wal-Qahti  Famines horrible,
wal-Maradi Ailments unbearable,
Wal-alam. And tragedies terrible.

Ismuhu  Whose name-
Maktubum Scribed eternally,
Marfuum Elevated incomparably,
Mashfu
um Interceding unfailingly-
Manqushun Fil Lawhi wal-Qalam. Is etched indelibly On the tablet heavenly.

Sayyidil Arabi wal-Ajam.
Lord is he alike of The Arab and The non-Arab.

Jismuhu  His earthly form-
Muqaddasum Mu`attarum  Sacred and Fragrant,
Mutahharum Munawwarun  Pure and Radiant-
fil-Bayti wal-Haram.Adorns the House And the Sanctuary.

Shamsid Duha Like the bright Sun at midday,

Badrid Duja  And like the full moon at midnight,

Sadril `ula  Established at the heights of zenith,

Nuril Huda  Our Guiding Light,

Kahfil Wara Haven for the hapless,

Misbahiz Zulam. He is the lamp dispelling the darkness.

Jamilish Shyami Adorned with qualities most beautiful,

Shafi` il-Umam. Intercessor is he for all people.

Sahibil Judi wal-Karam.
Possessor of majesty is he, And also of generosity bountiful.

Wallahu Asimuhu.   And Allah is his Protector,
Wa Jibrilu Khadimuhu.  Gabrielle his valet,
Wal-Buraqu Markabuhu.  The steed supernal, his ride,
Wal-Mi
raju Safaruhu  The ascension sublime his journey,
Wa Sidratu al-Muntaha Maqamuhu.  Loftiest height his station,
Wa Qaba Qawsayni Matlubuhu.  Intimacy with Truth his desire,
Wal-Matlubu Maqsuduhu  His desire his Objective,
Wal-Maqsudu Mawjuduh.  And one with his Objective, he already is.

Sayyidil Mursalin.  Leader of the messengers from heaven,

Khatimin Nabiyyeena  Seal of the prophets,

Shafi`il Mudhnibin.  Intercessor for the sinners,

Anisil Gharibeena  Friend of the poor,

Rahmatil lil `Alamin.  Mercy for worlds,

Rahatil `Ashiqeen.  Bliss for lovers,

Muradil Mushtaqeen.  Goal of the aspirants,

Shamsil `Arifeen.  Sun among the Gnostics,

Sirajis Salikeen  Beaconing light for the seekers of Truth,

Misbahil Muqarrabeen.  Illuminating lamp for the ones up and close,

Muhibbil Fuqara’ay wal-Ghuraba’ay wal-Masakeen.
Beloved of the poor, of the needy, And of the downtrodden too,
Is he.

Sayyidith Thaqalaynay  Master of the worlds: the seen and the unseen,

Nabiyyil Haramayn.  Prophet of the two Sanctuaries,

Imamil Qiblatayn.  Leader of the two directions of prayer,

Waseelatina fid Darayn.
Means of felicity is he in both abodes:  Here and in the Hereafter.

Sahibi Qaba Qawsayni Possessor of proximity to the Truth,

Mahbubi Rabbil Mashriqayni wal-Maghribayn.
Beloved of the Lords of the easts and wests,

Jadd al-Hasani wal-Husayn  Grandfather of Hasan and Hussain,

Mawlana wa Mawlath Thaqalayn
Our liege lord is he, And also the lord of all beings:
Seen and unseen.

Abil Qasimi  Father of Qasim,

MUHAMMAD ibni `Abdillahi  Muhammad, son of Abdullah,

Nurinm min Nurillahi  Is verily Light from the Light of Allah.

Yaa Ayyuhal Mushtaquna bi Nuri Jamalihi Sallu `Alayhi wa Alihi wa Ashabihi wa Sallimu Taslima.

O ye, who are eager to behold
His radiant beauty eternal,
Send blessings on him galore,
And also on his family,
And on his companions;

 

दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में|| Darood e Taj in English translation
दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में||
Darood e Taj in English translation

 

अगर आपको मेरी पोस्ट दुरूद ए ताज हिंदी में|| दुरूद ए ताज अरबी में||Darood e Taj in English translation
पसंद है तो प्लीज इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें सोशल मीडिया पर फेसबुक इंस्टाग्राम टि्वटर व्हाट्सएप सभी वहां पर शेयर करें नेक्स्ट पोस्ट में मिलते हैं इंशाल्लाह अल्लाह हाफिज दुआ में याद रखिएगा.9

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here